महू में महिला के अंधे कत्ल का पर्दाफाश l    पहचान छुपाने के लिए निर्दयता से टुकड़े-टुकड़े कर दिए l

   महू में महिला के अंधे कत्ल का पर्दाफाश l
   पहचान छुपाने के लिए निर्दयता से टुकड़े-टुकड़े कर दिए l


महू। महू पुलिस ने गत 2 एवं 3 अक्टूबर को मिले मानव अंगों के मामले में जघन्य हत्या के आरोपियों को पकड़ने में बड़ी सफलता हासिल की है। ज्ञात हो कि 2 अक्टूबर को महू पुलिस को सूचना मिली थी कि महू के पत्ती बाजार क्षेत्र की सुरखी गली की नाली में किसी के कटे हुए पैरोँ का जोड़ा पड़ा हुआ है जिस पर पुलिस ने पहुंच कर उक्त मानव अंगों को नाली से निकलवा कर जांच प्रारम्भ की जांच में उक्त मानव अंग किसी महिला के पैर थे जिन्हें किसी ने काटकर नाली में फेंका था। पुलिस ने पैरों के मिलने के बाद व्यापक स्तर पर बाकी के अंगों को तलाशना शुरू किया 3 अक्टूबर को महू की खान कालोनी में रेलवे ट्रैक के पास किसी की कटाई हुई गर्दन एवं हाथों के पड़े होने की सूचना के बाद पुलिस ने उक्त मानव अंगों को भी जांच पर लेकर कड़ियाँ जोड़ना प्रारम्भ की शहर के कई स्थानों सहित जहां जहां मानव अंग बरामद हुए थे के आसपास के सी सी टी वी फुटेज चेक किये जिसमें संदेह के आधार पर आरोपी अनूप माहेश्वरी निवासी हम्माल मोहल्ला बाड़ा को पकड़ा एवं कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपी ने साजिद लंगडा निवासी हम्माल मोहल्ला महू के साथ महिला की हत्या करना कबूला। जांच में आया कि अनूप ही महिला के कटे हुए पैर 1 अक्टूबर की मध्य रात्रि में उसके घर से लेकर निकला था तथा नाली में फेंक आया था। मृतक महिला पूजा उर्फ रुखसाना थी जो कि नशे की आदि थी तथा विगत कुछ वर्षों से महू में ही रह रही थी वो कुछ समय से साजिद लँगड़े के सम्पर्क में थी तथा नशे की लत के चलते साजिद उसका शोषण भी कर रहा था। आरोपी अनूप माहेश्वरी का उसकी पत्नी से वर्षों पूर्व सम्बन्ध तलाक हो गया था यूँ वह दिन भर ठेले पर पोस्टर एवं खिलोने बेचने का कार्य करता था किंतु हम्माल मोहल्ले के बाड़े में उसके घर पर रोज रात को महफ़िल जमती थी जहां वो ब्लू फिल्में दिखाता साथ ही ताश पत्ती  मोहल्ले के लड़कों को खिलाता तथा बदले में उनसे नाल काटने के नाम पर पैसे वसूलता था। इसके अलावा वह अनैतिक धंधा करने वाली महिलाओं के भी सम्पर्क में था जिन्हें वो बुलवाकर जिस्मफरोशी भी करवाता था। वहीं साजिद लँगड़ा नशे का आदि था एवं उसके परिवार वालों ने भी उसे घर से अलग कर रखा था। इस अंधे कत्ल का पर्दाफाश करने में पुलिस ने 5 दिन में काफी मशक्कत की एवं सफलता भी प्राप्त की एस एस पी श्रीमती रुचिवर्धन मिश्र के निर्देश पर एवं एस पी (पश्चिम) , अति पुलिस अधीक्षक धर्मराज मीणा के मार्गदर्शन में एस डी ओ पी विनोद शर्मा, थाना प्रभारी योगेंद्र सिंह तोमर सहित पूरी टीम ने दिन रात अथक प्रयास कर इस अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाया।


Popular posts
Taiwanese Headlightbrands gaining 70% market share in EU and US through smart transformation
Image
उद्घाटन हेतु केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जी को दिया गया निमंत्रण पत्र
Image
*पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह का बड़ा एलान, रात में पुलिस छोड़ेगी महिलाओं को घरl*
*इंदौर कलेक्टर लोकेश जाटव सिटी बस में यात्रा करके पहुंचे अपने कार्यालय l*
Image
25 बार चिदम्बरम को जमानत देने वाले न्यायाधीश की भी जांच होनी चाहिये ये माजरा क्या है.? काँग्रेस द्वारा किया गया विश्व का सबसे बड़ा घोटाला खुलना अभी बाकी है......बहुत बड़े काँग्रेसी और ब्यूरोक्रैट्स पकड़े जायेंगे। इसलिये चिदम्बरम को बार -बार जमानत दी जा रही है।*