*अवैध खनन की जानकारी देने के बावजूद अधिक की साठ गाठ होने से कोई कार्य वाही नही *l                      *पत्रकार दानिश खान की रिपोर्ट *

   *अवैध खनन की जानकारी देने के बावजूद अधिक की साठ गाठ होने से कोई कार्य वाही नही *l


                     *पत्रकार दानिश खान की रिपोर्ट *


  सांवेर इंदौर राजस्व विभाग के अधिकारियों की लापरवाही के कारण एक पट्टेधारक व्यक्ति को एक साल भटकने के बाद कलेक्टर की शरण लेनी पड़ी भृष्टाचार की साठ गांठ की शुरुवाद होती है इंदौर के सांवेर तहसील के गाव सिन्नोद की एक लोती पहाड़ी से जह पर हिन्दू धर्म के देव नारायण भगवान का मुख्य मंदिर है पर खनन करने व् करवाने वालो ने यह स्थान भी नही छोड़ा जहा पर उन परमात्मा का मंदिर है जिन्हों ने मनुष्य की रचना की शुरुवाद होती है सांवेर के पूर्व अनु विभागीय अधिकारी से जिसके कारण फरियादी ने, व् कई बार ग्रामीणों ने भी शिकायत की पर जिम्मेदार अधिकारियों की सांठ गांठ से खनन निरन्तर चलता रहा व् पहाड़ी की खुदाई चालू रही यह खुदाई रुकवाने के लिए ग्रामीणों ने भी कई बार शिकायत की पर जो भी जिम्मेदार अधिकारी देखने व् कार्य वही करने के लिए आए उन्हों ने सिर्फ अपन निजी स्वार्थ देखा व श्वयम का मुनाफा लेकर खामोशी से निकल गए व् ग्रामीणों की शिकायतें सिर्फ कागजो में ही सीमित रख दी इस खनन की तो ग्रामीणों ने सीएम हेल्पलाइन 181 पर भी शिकायत की पर ग्रामीणों ध्वारा शिकायत पर जिम्मेदार खमोश रहे व जिम्मेदारों की साठ गांठ होती रही व् अधिकारियों की हेरा फेरी होती रही व शिकायत करत की उस उम्मीद पर दाग लगाता रहा जिस उम्मीद से कानून का भरोसा कानून की कद्र करने व् ,वह उम्मीद भर्ष्टाचार करने वाले जिम्मेदार अधिकारी के काले कारनामे के कारण भरोसा छीन लिया l


Popular posts
Taiwanese Headlightbrands gaining 70% market share in EU and US through smart transformation
Image
उद्घाटन हेतु केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जी को दिया गया निमंत्रण पत्र
Image
*पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह का बड़ा एलान, रात में पुलिस छोड़ेगी महिलाओं को घरl*
*इंदौर कलेक्टर लोकेश जाटव सिटी बस में यात्रा करके पहुंचे अपने कार्यालय l*
Image
25 बार चिदम्बरम को जमानत देने वाले न्यायाधीश की भी जांच होनी चाहिये ये माजरा क्या है.? काँग्रेस द्वारा किया गया विश्व का सबसे बड़ा घोटाला खुलना अभी बाकी है......बहुत बड़े काँग्रेसी और ब्यूरोक्रैट्स पकड़े जायेंगे। इसलिये चिदम्बरम को बार -बार जमानत दी जा रही है।*