*भगोरिया छायाचित्र स्पर्धा का पुरस्कार वितरण...*

भगोरिया छायाचित्र स्पर्धा का पुरस्कार वितरण...


प्रदेश के पर्यटन मंत्री वघेल हुए शामिल
इंदौर। भगोरिया पर्व हमारा धार्मिक और सांस्कृतिक उत्सव है और हमारे क्षेत्र की धरोहर भी है। हमने सालों से सहेजकर रखा है। आपने हमारी धरोहर और संस्कृति को एक मुकाम पर लाकर खड़ा कर दिया है। इंदौर प्रेस क्लब ने इस भगोरिया पर्व की छायाचित्र प्रतियोगिता आयोजित कर अनुपम प्रयास किया है।
यह बात प्रदेश के पर्यटन एवं नर्मदा घाटी विकास मंत्री सुरेन्द्रसिंह बघेल 'हनी' ने कही। इंदौर प्रेस क्लब एवं. म.प्र. पर्यटन विकास निगम के संयुक्त तत्वावधान भगोरिया छायाचित्र स्पर्धा के पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया। श्री बघेल ने बताया कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में पर्यटन विकास की कई योजनाओं पर काम चल रहा है। अधिक से अधिक पर्यटक प्रदेश में आएं और इस क्षेत्र में रोजगार के अवसर बड़ें, इस दिशा में हमारे प्रयास चल रहे है।
ख्यात फोटोग्राफर  बिनय कुमार रावल ने कहा कि एक खास उत्सव को इस स्पर्धा के जरिए राष्ट्रीय कैनवास पर उकेरने का काम किया गया है। मैंने कभी भगोरियो नहीं देखा है, पर फोटोग्राफर्स साथियों ने जिस खूबसूरती से उसके रंगों को चित्रों में कैद किया है, उसे देख मैं अभिभूत हूं। 
वरिष्ठ फोटोग्राफर पद्मश्री भालू मोंढे ने प्रशंसा की प्रेस क्लब के अध्यक्ष  अरविंद तिवारी ने बताया कि प्रतियोगिता के माध्यम से फोटो जर्नलिस्ट साथियों को आदिवासी संस्कृति से रूबरू होने का मौका मिला ।
इन्हें मिला पुरस्कार-
फोटोग्राफी में प्रथम पुरस्कार दीपक चौरसिया, द्वितीय गोपाल वर्मा एवं तृतीय पुरस्कार राजू पंवार को प्रदान किए गए। दो विशेष पुरस्कार के लिए  प्रफुल्ल चौरसिया और मो. जाकिर को तथा दो प्रोत्साहन पुरस्कार के लिए  दीपक जैन एवं योगेश गुंजाल (बंटी) को प्रदान किए गए।
तीन दिवसीय फोटो प्रदर्शनी का शुभारंभ किया गया। छवियों में भगोरिया फोटो स्पर्धा में भाग लेने वाले सभी प्रतिभागियों के चित्र इस प्रदर्शनी में लगाए गए हैं।


Popular posts
Taiwanese Headlightbrands gaining 70% market share in EU and US through smart transformation
Image
उद्घाटन हेतु केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जी को दिया गया निमंत्रण पत्र
Image
*पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह का बड़ा एलान, रात में पुलिस छोड़ेगी महिलाओं को घरl*
*इंदौर कलेक्टर लोकेश जाटव सिटी बस में यात्रा करके पहुंचे अपने कार्यालय l*
Image
25 बार चिदम्बरम को जमानत देने वाले न्यायाधीश की भी जांच होनी चाहिये ये माजरा क्या है.? काँग्रेस द्वारा किया गया विश्व का सबसे बड़ा घोटाला खुलना अभी बाकी है......बहुत बड़े काँग्रेसी और ब्यूरोक्रैट्स पकड़े जायेंगे। इसलिये चिदम्बरम को बार -बार जमानत दी जा रही है।*